Budh Gochar 2024: बुध ग्रह का मकर राशि में गोचर और आपकी राशि पर प्रभाव

'ज्योतिर्विद डी डी शास्त्री'

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on email
Share on print

‘ॐ चन्द्र पुत्राय विदमहे.! रोहिणी प्रियाय धीमहि.! तन्नोबुध: प्रचोदयात.I।
जय नारायण की …सूर्यादि ग्रहों में युवराज की उपाधि प्राप्त बुध ग्रह 01 फरवरी को मध्याहन 14 बजकर 22 मिनट पर धनु राशि की यात्रा पूर्ण कर अपने प्रिय सखा शनि की मकर राशि में प्रवेश कर रहे हैं,19/20,फरवरी रात्रि 30 बजकर 01 मिनट तक गोचर करेंगे उसके बाद कुंभ राशि में चले जाएंगे, कर्म और न्याय के कारक शनि ग्रह की मकर राशि में सूर्यादि नव ग्रहों के राजा सूर्य स्वयं करेंगे अपने युवराज बुद्ध का सुस्वागतम,गोचर में इस परिवर्तन का सर्वाधिक प्रभाव विद्यार्थियों पर पड़ेगा.30 वर्षों से भी अधिक अवधी का ज्योतिष के क्षेत्र में अनुभव रखने वाले “ज्योतिर्विद डी डी शास्त्री” जी से जानिए जनवरी माह का अपना मासिक राशिफल:-

मेष राशि -: राशि से दशम कर्म भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव हर तरह से बेहतरीन सफलता दिलाने वाला सिद्ध होगा। कार्य व्यापार में उन्नति तो होगी ही, लिए गए निर्णय और किए गए कार्यों की सराहना भी होगी। शासन सत्ता का पूर्ण सहयोग मिलेगा। कोई भी बड़े से बड़ा कार्य आरंभ करना हो अथवा किसी नए अनुबंध पर हस्ताक्षर करना हो तो उस दृष्टि से भी ग्रह स्थितियां बेहद अनुकूल रहेंगी। जमीन जायदाद से जुड़े मामले हल होंगे। मकान वाहन के भी क्रय करने का योग है.।

वृषभ राशि -:- राशि से नवम भाग्य भाव में गोचर करते हुए बुध धर्म और आध्यात्म में रुचि बढ़ाएंगे। यात्रा देशाटन का लाभ मिलेगा। अपनी ऊर्जाशक्ति का सदुपयोग करते हुए कार्य करेंगे तो अधिक सफल रहेंगे। विदेशी कंपनियों में सर्विस अथवा नागरिकता के लिए किया गया प्रयास भी सफल रहेगा। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों और उच्चाधिकारियों से संबंध बिगड़ने न दें। जो लोग आपको नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे थे वही मदद के लिए आगे आएंगे। योजनाएं गोपनीय रखें और आगे बढ़ें.।

मिथुन राशि -:- राशि से अष्टम आयु भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालेगा विशेष करके पेट संबंधी विकार,चर्म रोग और दबावों के रिएक्शन से सावधान रहना पड़ेगा। कार्यक्षेत्र में भी षड्यंत्र का शिकार होने से बचें। बेहतर रहेगा कार्य संपन्न करें और सीधे घर आएं। आकस्मिक धन प्राप्ति का योग बनेगा। काफी दिनों का दिया गया धन भी वापस मिलने की उम्मीद है। पैतृक संपत्ति संबंधी विवाद हल होंगे। इस अवधि के मध्य किसी महंगी वस्तु का क्रय करेंगे.।

कर्क राशि -:- राशि से सप्तम दांपत्य भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव हर तरह से लाभदायक ही रहेगा। कार्य व्यापार में भी उन्नति रहेगी फिर भी साझा व्यापार करने से बचें। परिवार में नए मेहमानों के आगमन से माहौल खुशनुमा रहेगा। केंद्र अथवा राज्य सरकार के विभागों में किसी भी तरह के टेंडर आदि के लिए आवेदन करना चाह रहे हों तो उस दृष्टि से भी ग्रह स्थितियों बेहद अनुकूल रहेंगी। विद्यार्थियों और प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों को परीक्षा में अच्छे अंक लाने के लिए अधिक प्रयास करने होंगे.।

सिंह राशि -:- राशि से छठे शत्रु भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव अप्रत्याशित उतार चढ़ाव का सामना करवाएगा। इस अवधि के मध्य विवादित मामलों से दूर रहें। कोर्ट-कचहरी से संबंधित मामले भी बाहर ही सुलझा लेना समझदारी रहेगी। विदेशी कंपनियों में सर्विस अथवा नागरिकता के लिए किया गया प्रयास सफल रहेगा। किसी भी तरह की कर्ज के लेन-देन से बचें तो बेहतर रहेगा। स्वास्थ्य विशेष करके पेट संबंधी विकार और चर्मरोग से बचें। विदेशी मित्रों तथा संबंधियों से अप्रिय समाचार प्राप्ति के योग बन रहे हैं.।

कन्या राशि -:- राशि से पंचम विद्या भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव हर तरह से बेहतरीन सफलता दिलाएगा। विद्यार्थियों और प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए तो यह समय किसी वरदान से कम नहीं है। संतान संबंधी चिंता में कमी आएगी। नवदंपति के लिए संतान प्राप्ति के भी योग बन रहे हैं। प्रेम संबंधी मामलों में उदासीनता दूर होगी। प्रेम विवाह भी कर सकते हैं। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों तथा बड़े भाइयों से भी सहयोग मिलेगा। नए लोगों से मेलजोल बढ़ेगा जिसका परिणाम सुखद रहेगा.।

तुला राशि -:- राशि से चतुर्थ सुख भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव कई मायनों में बेहतरीन सफलता कारक रहेगा किंतु कहीं न कहीं पारिवारिक कलह और मानसिक अशांति का सामना करना पड़ेगा। मित्रों तथा संबंधियों से भी सुखद समाचार प्राप्ति के योग। जमीन-जायदाद से जुड़े मामले हल होंगे। मकान और वाहन का भी क्रय करना चाह रहे हों तो उस दृष्टि से भी ग्रह-गोचर अति अनुकूल रहेगा। माता-पिता के स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशीलन रहें और कोई भी कार्य जब तक पूर्ण न हो जाए उसे सार्वजनिक न करें.।

वृश्चिक राशि -:- राशि से तृतीय पराक्रम भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव आपके स्वभाव में सौम्यता लाएगा। अपनी ऊर्जा शक्ति के बल पर विषम परिस्थितियों पर भी आसानी से नियंत्रण पा लेंगे। परिवार के छोटे सदस्यों से मेल-जोल और बढ़ेगा। धर्म और आध्यात्म के प्रति रुचि पड़ेगी। धार्मिक ट्रस्टों तथा अनाथालय आदि में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे। दान-पुण्य करेंगे। तीर्थ यात्रा का भी योग बन रहा है। इस अवधि के मध्य जो भी कार्य करेंगे उसी में सफल रहेंगे। नौकरी में पदोन्नति औक नए अनुबंध की प्राप्ति के योग बन रहे हैं.।

धनु राशि -:- राशि से द्वितीय धन भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव आर्थिक पक्ष तो मजबूत करेगा ही काफी दिनों का दिया गया धन भी वापस मिलने की उम्मीद है। स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। अपनी वाणी कुशलता के बल पर कठिन परिस्थितियों पर भी आसानी से नियंत्रण पा लेंगे। विद्यार्थियों और प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए भी समय बेहतरीन रहेगा। परिवार में मांगलिक कार्यों का सुअवसर आएगा। इस अवधि के मध्य किसी से भी अधिक कर्ज के लेन-देन से बचें.।

मकर राशि -:- आपकी राशि में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव हर तरह से लाभदायक ही रहेगा। जैसी सफलता चाहेंगे हासिल करेंगे। प्रभाव में वृद्धि तो होगी ही साथ ही अपने सौम्य स्वभाव और कुशल रणनीति के बलपर कठिन हालात को भी नियंत्रित करने में सफल रहेंगे। केंद्र अथवा राज्य सरकार के विभागों के प्रतीक्षित कार्य संपन्न होंगे। जो लोग आपको नीचा दिखाने की कोशिश में लगे थे वही मदद के लिए आगे आएंगे। दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। वैवाहिक वार्ता सफल रहेगी। ससुराल पक्ष से भी सहयोग मिलेगा.।

कुंभ राशि -:- राशि से बारहवें व्यय भाव में गोचर करते हुए बुध का प्रभाव अत्यधिक भागदौड़ और खर्च का सामना करवाएगा जिसके परिणामस्वरूप आर्थिक तंगी का भी अनुभव करेंगे। कोर्ट-कचहरी से संबंधित मामले भी बाहर ही सुलझा लेना समझदारी रहेगी। यात्रा देशाटन का लाभ मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग विदेश में पढ़ाई करने के लिए जाने का प्रयास कर रहे हों तो उस दृष्टि से ग्रह स्थितियां अनुकूल रहेंगी। विदेशी कंपनियों में सर्विस अथवा नागरिकता के लिए किया गया प्रयास भी सफल रहेगा.।

मीन राशि -:- राशि से एकादश लाभ भाव में गोचर करते हुए बुध हर तरह से सफलता कारक ही रहेंगे। संतान संबंधी चिंता में कमी आएगी, दायित्व की पूर्ति भी होगी। प्रेम संबंधी मामलों में प्रगति होगी। प्रेम विवाह भी कर सकते हैं। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों और बड़े भाइयों से भी सहयोग मिलेगा। विद्यार्थियों और प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए भी यह समय बेहतरीन रहेगा। कोई भी बड़े से बड़ा कार्य आरंभ करना हुआ अथवा किसी नए अनुबंध पर हस्ताक्षर करना हो तो उस दृष्टि से भी समय अनुकूल है इसका लाभ उठाएं.।

नोट :- अपनी पत्रिका से सम्वन्धित विस्तृत जानकारी अथवा ज्योतिष,अंकज्योतिष,हस्तरेखा,वास्तु एवं याज्ञिक कर्म हेतु सम्पर्क करें...!
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on email
Share on print
नये लेख